• Loading stock data...

पंजाब शहरी आवास योजना (Punjab Shehri Housing Scheme)

How to apply online for Punjab Shehri Housing Scheme

 पंजाब सरकार द्वारा राज्य में पंजाब आवास योजना का उद्घाटन किया गया है। जिसे पंजाब शहरी आवास योजना के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के उन नागरिकों को घर बनाने में वित्तीय सहायता प्रदान करना है जो आर्थिक रूप से कमजोर है। जो पंजाब राज्य में रहते हैं और अपना घर बनाना चाहते हैं परंतु वह बनाने में सक्षम नहीं है,  पंजाब सरकार उनसे आवेदन तलब कहती है  और इस बात का आश्वासन देती है कि यदि आवेदक पात्रता मापदंड को पूरा करता है और आवश्यक सभी दस्तावेज उपलब्ध करवा देता है तो पंजाब सरकार द्वारा उसे उसका मकान बनाने में  पंजाब आवास योजना के तहत उपयुक्त वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत शेड्यूल कास्ट,  शेड्यूल्ड ट्राइब्स,  पिछड़े वर्ग और आर्थिक रुप से कमजोर  परिवारों पर अधिक जोर दिया गया है। 

इस योजना का क्रियान्वयन पंजाब स्टेट अर्बन लाइवलीहुड मिशन के तहत किया जाता है।इस योजना के अंतर्गत वह लोग भी आवेदन कर सकते हैं जो काफी समय से मकान खरीदना चाह रहे हैं परंतु आर्थिक स्थिति अच्छी न होने के कारण सक्षम नहीं हो पाते। वह सब भी ऑनलाइन आवेदन के द्वारा पंजाब शहरी आवास योजना का लाभ उठा सकते हैं। 

Also Read  How To Paint A Room And What Are The Important Requirements ?

पंजाब शहरी आवास योजना की मुख्य विशेषताओं की झलकियां (Glimpses of the main features of the Punjab Shehri Housing Scheme)

योजना का नामपंजाब शहरी आवास योजना
उद्घाटनपंजाब सरकार
वर्ष2023
लाभार्थीवह सभी पंजाब में रहने वाले नागरिक जिनके पास अपना मकान नहीं है।
आवेदन का तरीकाऑनलाइन
पंजाब शहरी आवास योजना का उद्देश्यनिर्धन नागरिकों को मकान उपलब्ध करवाना
योजना के लाभसभी के लिए घर
कैटेगरीपंजाब सरकार योजना 
ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट का लिंकhttps://pmidcprojects.punjab.gov.in/pmay/index.php 

पंजाब शहरी आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? (How to apply online for Punjab Shehri Housing Scheme?)

 ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाता है जिसमें निम्नलिखित जानकारी आप से मांगी जाती है।

  • परिवार के मुखिया का नाम –  इसके तहत परिवार की  मुखिया महिला  के नाम से आवेदन करना चाहिए और यदि परिवार में कोई महिला मुखिया नहीं है तब  पुरुष मुखिया के नाम से भी आवेदन कर सकते हैं और यदि आवेदन करने वाला स्वयं ही परिवार का मुखिया है तो वह अपने नाम से आवेदन कर सकता है।
  • लिंग –  आवेदक चाहे पुरुष हो या महिला यह बात  महत्वपूर्ण नहीं है।
    • आवेदक के पिता/ पति का  नाम –  आवेदक के लिए यह अनिवार्य है कि वह अपने पिता और यदि महिला है तो पति का नाम अवश्य दर्ज करें।
      • आवेदक की आयु –  आवेदक फॉर्म भरते समय  आयु प्रमाण पत्र या अन्य प्रमाण पत्र के अनुसार सही आयु ही भरें।
        • वर्तमान पता –  इसमें आपको पिन कोड के साथ अपना वर्तमान पता भरना होगा।
          • स्थाई पता –  जो पता आवेदक के आधार कार्ड या वोटर कार्ड पर दर्ज है उसके अनुसार वही स्थाई पता आवेदन फॉर्म में भरें।
            • वार्ड नंबर –  जिस जगह पर आपका प्लॉट है या जहां पर आप मकान बनाना या खरीदना चाहते हैं वहां का बोर्ड नंबर भी दर्ज करना अनिवार्य है।
              • मोबाइल नंबर –  यहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा और वह मोबाइल नंबर आपके बैंक अकाउंट के साथ भी लिंक होना चाहिए।
                • मैरिटल स्टेटस –  इस बिंदु में आवेदक हो यह जानकारी बनी होगी कि वह विवाहित है या अविवाहित।
                  • आधार नंबर –  इस कॉलम में आवेदक को अपने आधार कार्ड का नंबर दर्ज करना अनिवार्य है।
                    • कोई अन्य पहचान पत्र –  यदि आवेदक के पास कोई अन्य पहचान पत्र भी हो जैसे कि वोटर कार्ड,  राशन कार्ड,  पासपोर्ट,  रेंट एग्रीमेंट,  बिजली का बिल या पानी का बिल आदि।
                      • मकान की स्थिति –  इस कॉलम में आवेदक को यह भरना होगा कि वह खाली प्लॉट है,  कच्चा घर है या जीर्ण-शीर्ण घर है।
                        • धर्म-  इस कॉलम में आवेदक अपना धर्म दर्ज करेगा और उसके पश्चात,  जाति –  कॉलम में जाति दर्ज करेगा जैसे कि शेड्यूल ट्राइब,  शेड्यूल कास्ट,  ओबीसी,  या जनरल।
                          • बैंक का नाम – इस कॉलम में आवेदक को अपने बैंक का नाम और उससे अगले  कॉलम में राजे का नाम भरना होगा।
                            • बैंक खाता नंबर –  इस कॉलम में आवेदक बैंक के पासबुक में दिए गए बैंक खाता नंबर को दर्ज करें।
                              • प्रमुख व्यक्ति अक्षम नहीं है –  इस कॉलम में आवेदक को इस बात की पुष्टि करनी होती है कि  आवेदक किसी भी तरह से किसी भी रुप से अक्षम नहीं है।
                                • पेशा –  इसमें आवेदक को अपना रोजगार दर्ज करना पड़ता है।
                                  • परिवार की औसतन आय  –  इस कॉलम में आवेदक हो परिवार की कुल वार्षिक औसतन आय दर्ज करनी होती है।
                                    • पीला कार्ड धारक –  इस कॉलम में आवेदक को यह जानकारी दर्ज करनी होगी कि उसके द्वारा फॉर्म में पीला कार्ड दर्शाया गया है या नहीं।
                                      • जमीन के दस्तावेज – जमीन की रजिस्ट्री, पारस्परिक रूप से पंजीकृत विभाजन, दान का कार्य,  वसीयत आदि। लाल डोरा/आबादी देह इंट्रा-एब्डॉमिनल बाइंडर के मामले में, बिजली का बिल,  यूटिलिटी और सीवरेज बिल  जिसे सरकार द्वारा अप्रूव किया गया हो।
                                        • आयु –  पिता या पति की आयु
                                          • आधार कार्ड नंबर –  पिता या पति का आधार कार्ड नंबर
                                            • कोई अन्य पहचान पत्र –   पिता या पति का  कोई अन्य पहचान पत्र जैसे कि वोटर कार्ड,  राशन कार्ड। 
                                              • संयुक्त धारक –  यदि आवेदक एक से अधिक है तो संयुक्त धारक का नाम भी दर्ज करना होगा। 
                                              Also Read  एमडीए मुरादाबाद योजना और इसके लाभ। ( MDA Moradabad Scheme and its Benefits )

                                              Also Read : How to apply online for Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana?

                                              error: Content is protected !!