• Loading stock data...

सूचना का अधिकार (RTI)  के लिए आवेदन कैसे करें? (How to apply for Right to Information (RTI)?)

How to fill a Right to Information (RTI) application online?

 सूचना का अधिकार (RTI) ऐक्ट क्या है? (What is Right to Information (RTI) Act?)

आरटीआई एक्ट को वर्ष 2005 में तत्कालीन सरकार द्वारा भारतीय नागरिकों की सुविधा के लिए लाया गया था ताकि  उनके द्वारा पूछी गई जानकारी को सरकारी विभाग  सही-सही और निर्धारित समय पर  उपलब्ध करवाएं। जिसे कार्मिक लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय  द्वारा संचालित किया जाता है। 

 सूचना का अधिकार (RTI) का उद्देश्य क्या है ? (What is the purpose of Right to Information (RTI)?)

 सूचना का अधिकार (RTI) का उद्देश्य भारतीय नागरिकों को सशक्त  और जागरूक बनाना,सरकारी विभागों के कामकाज में पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देकर देश में लोकतंत्र कार्य को कार्यान्वित करना है।यदि नागरिकों के पास पर्याप्त सूचना ही नहीं होगी तो वह किसी भी सरकार की ना आलोचना कर पाएंगे और ना ही सराहना जबकि किसी भी देश के विकास में इन दोनों का ही बहुत महत्वपूर्ण योगदान होता है। इससे देश में बढ़ रहे भ्रष्टाचार पर भी रोक  लगाने में अत्यंत सहायता मिलती है।

Also Read  NCERT: Very Important for Excelling Boards Exams

किसी जानकारी से संबंधित सूचना का अधिकार (RTI)  का आवेदन कहां करना चाहिए? (Where should one apply for Right to Information (RTI) related to any information?)

इसके लिए सबसे पहले यह ज्ञात होना चाहिए कि हमें क्या जानकारी प्राप्त करनी है  क्योंकि इसी के आधार पर इस बात का चयन होता है कि सरकार के किस विभाग में सूचना का अधिकार (RTI)  के लिए आवेदन भरना है। जैसे कि यदि किसी नागरिक को आयकर से संबंधित जानकारी प्राप्त करनी है तो उसे आयकर विभाग में ही आवेदन करना चाहिए और यदि किसी को रक्षा से संबंधित जानकारी प्राप्त करनी हो तो उसे भारतीय रक्षा मंत्रालय में आवेदन करना चाहिए।

 सूचना का अधिकार (RTI)  के लिए आवेदन कैसे करें? (How to apply for Right to Information (RTI)?)

 भारत का प्रत्येक नागरिक सूचना का अधिकार (RTI)  एक्ट का लाभ उठा सके  इसीलिए अनिवार्य प्रारूप नहीं बनाया गया है। आवेदन को किसी शादी कागज पर लिखकर भी संबंधित विभाग में भेजा जा सकता है। इसके लिए हिंदी या अंग्रेजी भाषा का प्रयोग किया जा सकता है और सरकारी विभाग भी उसी भाषा में जवाब देने पर बाध्य होते हैं।

 सूचना का अधिकार (RTI) के लिए आवेदन दो प्रकार से किया जा सकता है : (There are two ways to apply for Right to Information (RTI):)

  • आवेदन को जानकारी से संबंधित सरकारी विभाग में लिखकर भेजा जा सकता है। 
Also Read  Few Effective Tools to Help In Your Product Management Certificate Program

इस प्रकार के आवेदन को चिट्ठी की तरह स्पीड पोस्ट या रजिस्टर पोस्ट  के द्वारा संबंधित सरकारी विभाग में लिखकर भेजा जाता है और यदि 30 दिनों के भीतर पूछी गई जानकारी का जवाब नहीं मिलता है तो आप केंद्रीय सूचना आयोग को इसकी शिकायत कर सकते हैं। 

  •  सूचना का अधिकार (RTI) आवेदन को ऑनलाइन भी भरा जा सकता है।

 इसके द्वारा देश के किसी भी कोने में बैठे हुए आप इंटरनेट के माध्यम से सूचना का अधिकार (RTI)  के लिए आवेदन कर सकते हैं। 

 सूचना का अधिकार (RTI) का ऑनलाइन आवेदन कैसे भरें? (How to fill a Right to Information (RTI) application online?)

 सूचना का अधिकार (RTI) का आवेदन करने के लिए सबसे पहले सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई वेबसाइट  rtionline.gov.in की वेबसाइट पर जाकर दिए गए दिशानिर्देश को ध्यान पूर्वक पढ़ना चाहिए। जो निम्नानुसार हैं : 

  • आवेदक को वेब पोर्टल पर पूछी गई आवश्यक जानकारी प्रदान करनी होती है। जहां लाल *  का निशान होता है वह जानकारी अति आवश्यक होती है तथा बाकी वैकल्पिक होती है।
  •  सूचना का अधिकार (RTI) के वेब पोर्टल पर  ऑनलाइन आवेदन भरा जा सकता है और यहीं से इसका भुगतान भी किया जाता है।
  • संबंधित   सरकारी मंत्रालय या विभाग का चयन करना।
  • संबंधित सार्वजनिक प्राधिकरण का चयन करें। 
  • आवेदक की ईमेल आईडी
  •  आवेदक का मोबाइल नंबर
  •  ईमेल आईडी को कंफर्म करें
  •  नाम लिखे
  •  पुरुष/ महिला/ थर्ड जेंडर  में से  लिंग का चयन करें
  • पूरा और सही पता दर्ज करें
  • आवेदक गरीबी रेखा से नीचे है या नहीं, का चयन करें
  •  उसके पश्चात नीचे दिए गए बड़े कॉलम में अपनी पूछी गई जानकारी को दर्ज करें 
  • आवेदन को निर्धारित कॉलम में लिखना चाहिए।
  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए अधिकतम शब्द सीमा 3000 शब्द होती है।
  • चूज़  फाइल में  सहायक दस्तावेज को संलग्न करें ( जिसकी प्रॉपर्टी 1 एमबी  से अधिक ना हो)
  • ऑन लाइन  आवेदन का पहला पन्ना भरने के पश्चात  भुगतान करें ( मेक पेमेंट) के चिन्हा पर क्लिक किया जाता है। जिसे वह इंटरनेट बैंकिंग,  क्रेडिट कार्ड,  डेबिट कार्ड, रूपए कार्ड या वीज़ा के द्वारा जमा कर सकते हैं| 
  •  यदि आवेदन करने के पश्चात मोबाइल नंबर पर आवेदक को  पंजीकरण नंबर प्राप्त नहीं होता है तो 24 से 48 घंटे  कि उसे प्रतीक्षा करनी चाहिए। यहां यह भी बात बहुत महत्वपूर्ण है कि वह नागरिक जो गरीबी रेखा से नीचे हैं उनके लिए किसी तरह का भुगतान नहीं होता है परंतु इसके लिए उन्हें बीपीएल कार्ड प्रमाण पत्र  की फोटो भी आवेदन के साथ संलग्न करनी होती है। 
  • जब आवेदक आवेदन करने लगे तो उसे  प्रथम अपीलीय अधिकारी  का सबमिट फर्स्ट अपील  आइकन पर क्लिक करके चयन करना चाहिए। 
  • स्टेटस देखें : सूचना का अधिकार (RTI)  का आवेदन करने के पश्चात आप उसकी स्थिति को ऑनलाइन कभी भी जांच सकते हैं| 
Also Read  mp4hdmovies org bollywood

 सूचना का अधिकार (RTI) का आवेदन करने के लिए कितना  शुल्क होता है? (What is the fee for applying for Right to Information (RTI)?)

जो नागरिक गरीबी रेखा से नीचे नहीं आते हैं उन्हें इस आवेदन के लिए ₹10 प्रति सूचना का अधिकार (RTI)  के आवेदन के लिए बतौर शुल्क भरना होता है। 

error: Content is protected !!