• Loading stock data...

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना और इसके लाभ ( Digital India Internship Yojana  and its Benefits )

How to Apply for Digital India Internship Yojana
Contents hide

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) द्वारा एक पहल है। इस योजना का उद्देश्य प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में स्नातकों और स्नातकोत्तरों को उभरती प्रौद्योगिकियों के व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करने और राष्ट्र के विकास में योगदान करने के अवसर प्रदान करना है।

यह योजना उन छात्रों को इंटर्नशिप प्रदान करती है जो सूचना प्रौद्योगिकी, कंप्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स, संचार और अन्य प्रासंगिक क्षेत्रों से संबंधित क्षेत्रों में डिग्री हासिल कर रहे हैं। इंटर्नशिप की अवधि छह महीने के लिए है, और इंटर्न को रुपये का वजीफा दिया जाता है। 10,000 प्रति माह। यह योजना इंटर्न को विभिन्न सरकारी विभागों और संगठनों में लाइव परियोजनाओं पर काम करने का अवसर भी प्रदान करती है।

Also Read  मोटिवेशनल निबंध कैसे लिखें ( How To Write A Motivational Essay )

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना का उद्देश्य छात्रों को उभरती प्रौद्योगिकियों जैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ब्लॉकचैन, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, साइबर सुरक्षा और अन्य में व्यावहारिक अनुभव प्रदान करना है। इस योजना का उद्देश्य प्रतिभाशाली और कुशल पेशेवरों का एक पूल बनाना है जो डिजिटल दुनिया में आने वाली चुनौतियों का अभिनव समाधान प्रदान करके राष्ट्र के विकास में योगदान दे सकते हैं।

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना के लाभ ( Benefits of Digital India Internship Yojana )

  • कौशल विकास – इंटर्नशिप छात्रों को उभरती प्रौद्योगिकियों में व्यावहारिक ज्ञान और अनुभव प्राप्त करने का अवसर प्रदान करता है, जो क्षेत्र में उनके कौशल और ज्ञान को बढ़ाएगा। 
  • नेटवर्किंग – यह योजना छात्रों को सरकारी विभागों और संगठनों के साथ काम करने का अवसर प्रदान करती है, जो उन्हें क्षेत्र में पेशेवरों का नेटवर्क बनाने में मदद करेगी। 
  • कैरियर ग्रोथ – इंटर्नशिप के माध्यम से प्राप्त व्यावहारिक अनुभव छात्रों के करियर की संभावनाओं को बढ़ा सकता है। यह योजना छात्रों को लाइव परियोजनाओं पर काम करने और राष्ट्र के विकास में योगदान करने का अवसर भी प्रदान करती है।
  • वजीफा – यह योजना रुपये का मासिक वजीफा प्रदान करती है। 10,000, जो छात्रों को इंटर्नशिप के दौरान उनके खर्चों को कवर करने में मदद कर सकता है।
  • मान्यता – सफलतापूर्वक इंटर्नशिप पूरा करने वाले छात्रों को इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) द्वारा एक प्रमाण पत्र दिया जाता है, जो उनके रिज्यूमे में मूल्य जोड़ सकता है।
Also Read  बालिका समृद्धि योजना (Balika Samriddhi Yojana )

अंत में, डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना छात्रों के लिए उभरती प्रौद्योगिकियों के व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करने और राष्ट्र के विकास में योगदान करने का एक उत्कृष्ट अवसर है। यह योजना छात्रों को कौशल विकास, नेटवर्किंग, कैरियर विकास, वजीफा और मान्यता सहित विभिन्न लाभ प्रदान करती है। यह योजना छात्रों को लाइव परियोजनाओं पर काम करने के अवसर प्रदान करके शिक्षा और उद्योग के बीच की खाई को पाटने में भी मदद कर सकती है।

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना पात्रता मानदंड| ( Digital India Internship Yojana  Eligibility Criteria)

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना के लिए पात्रता मानदंड इस प्रकार हैं:

आयु सीमा – आवेदन के समय आवेदक की आयु 18 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
शैक्षिक योग्यता – आवेदक को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से अध्ययन के किसी भी क्षेत्र में स्नातक या स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त करने वाला छात्र होना चाहिए। वैकल्पिक रूप से, आवेदक अध्ययन के किसी भी क्षेत्र में डिप्लोमा धारक भी हो सकता है।
न्यूनतम अंक – आवेदक को अपने पिछले शैक्षणिक वर्ष में कम से कम 60% अंक प्राप्त करने चाहिए।
तकनीकी कौशल-  आवेदक को डिजिटल प्रौद्योगिकी और कंप्यूटर अनुप्रयोगों की बुनियादी समझ होनी चाहिए।
भाषा कौशल –  आवेदक को अंग्रेजी और हिंदी पढ़ने, लिखने और बोलने में कुशल होना चाहिए।
भारतीय नागरिकता – आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए।
कोई पूर्व इंटर्नशिप नहीं – आवेदक को भारत सरकार द्वारा प्रायोजित किसी अन्य इंटर्नशिप कार्यक्रम में भाग नहीं लेना चाहिए।

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज कौन से हैं? ( What are the documents required for Digital India Internship Yojana ? )

योजना के लिए आवेदन करने के लिए, उम्मीदवारों को दस्तावेजों का एक सेट जमा करना आवश्यक है जो सत्यापन उद्देश्यों के लिए महत्वपूर्ण हैं। ये दस्तावेज इस प्रकार हैं

पहचान प्रमाण – आवेदकों को पहचान का वैध प्रमाण जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस जमा करना होगा।
शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र – योजना के लिए अपनी पात्रता साबित करने के लिए उम्मीदवारों को अपनी शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र प्रदान करना होगा। इसमें दसवीं, बारहवीं और स्नातक या स्नातकोत्तर की मार्कशीट और प्रमाण पत्र शामिल हैं।
निवास का प्रमाण – आवेदकों को अपने स्थायी और वर्तमान निवास का वैध प्रमाण देना होगा जैसे अधिवास प्रमाण पत्र, बिजली का बिल, पानी का बिल, या किराया समझौता।
करिकुलम वीटा (सीवी) – उम्मीदवारों को अपनी शैक्षिक योग्यता, कार्य अनुभव और उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए एक विस्तृत सीवी जमा करना होगा।
फोटोग्राफ – आवेदन के लिए उम्मीदवार की एक हालिया पासपोर्ट आकार की तस्वीर आवश्यक है।
इंटर्नशिप का प्रमाण पत्र – जिन उम्मीदवारों ने पहले इंटर्नशिप कार्यक्रम पूरा कर लिया है, उन्हें इंटर्नशिप का प्रमाण पत्र देना होगा।
श्रेणी प्रमाण पत्र – अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग या ईडब्ल्यूएस श्रेणियों से संबंधित आवेदकों को एक वैध श्रेणी प्रमाण पत्र प्रदान करना होगा।बैंक खाता विवरण – उम्मीदवारों को बैंक का नाम, शाखा का नाम, खाता संख्या और IFSC कोड सहित अपने बैंक खाते का विवरण देना होगा।

इन दस्तावेजों को आवेदन पत्र में उल्लिखित दिशा-निर्देशों के अनुसार स्कैन किए गए प्रारूप में प्रस्तुत किया जाना चाहिए। उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे सत्यापन के उद्देश्य से इन दस्तावेजों की मूल प्रति अपने पास रखें। उम्मीदवार द्वारा प्रदान की गई किसी भी गलत या अधूरी जानकारी के परिणामस्वरूप योजना से अयोग्यता हो सकती है। इसलिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि सभी दस्तावेज प्रामाणिक और पूर्ण हों।

Also Read  mp4hdmovies org bollywood

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना के लिए आवेदन कैसे करें? ( How to Apply for Digital India Internship Yojana ? )

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना के लिए आवेदन करने के तरीके के बारे में चरण-दर-चरण मार्गदर्शिका यहां दी गई है –

आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं – पहला कदम डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है, जो निम्नलिखित है

https://services.india.gov.in/service/detail/digital-india-internship-Yojana -for-nic-1

पात्रता की जांच करें – आवेदन करने से पहले, उम्मीदवारों को योजना के लिए पात्रता मानदंड की जांच करनी चाहिए। पात्रता मानदंड में भारतीय नागरिक होना और न्यूनतम आयु 18 वर्ष होना शामिल है। इसके अतिरिक्त, उम्मीदवारों को प्रासंगिक क्षेत्र में डिग्री का पीछा करना चाहिए या पूरा करना चाहिए।
रजिस्टर करें और एक प्रोफाइल बनाएं – पात्रता मानदंड की जांच करने के बाद, उम्मीदवारों को पोर्टल पर पंजीकरण और एक प्रोफाइल बनाने की आवश्यकता है। ऐसा करने के लिए, उन्हें “रजिस्टर” बटन पर क्लिक करना होगा और नाम, ईमेल पता, फोन नंबर और पासवर्ड जैसी बुनियादी जानकारी प्रदान करनी होगी।
आवेदन पत्र भरें – एक बार पंजीकृत होने के बाद, उम्मीदवारों को शैक्षिक योग्यता, कार्य अनुभव, कौशल और व्यक्तिगत विवरण जैसे सभी आवश्यक विवरणों के साथ आवेदन पत्र भरना होगा।
आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें – उम्मीदवारों को सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करने की आवश्यकता है, जिसमें उनके फिर से शुरू की एक प्रति, शैक्षिक प्रमाण पत्र और अन्य प्रासंगिक दस्तावेज शामिल हैं।
परियोजनाओं का चयन करें – आवेदन पत्र जमा करने के बाद, उम्मीदवार अपने कौशल और वरीयताओं के आधार पर उन परियोजनाओं को चुन सकते हैं जिन पर वे काम करना चाहते हैं।
आवेदन जमा करें – अंत में, उम्मीदवारों को अपने आवेदन की समीक्षा करने और “सबमिट” बटन पर क्लिक करने की आवश्यकता है। आगे की प्रक्रिया के लिए आवेदन संबंधित अधिकारियों को भेजा जाएगा।

Also Read : How to apply for MNREGA Cattle Shed Scheme?

error: Content is protected !!