• Loading stock data...

आपदा प्रबंधन में भारतीय रेलवे की क्या भूमिका है ( What is The Role of Indian Railways in Disaster Management )

How to book train ticket for foreign tourist in Indian Railways

Role of Indian Railways in Disaster Management – भारतीय रेलवे दुनिया के सबसे बड़े रेलवे नेटवर्क में से एक है और देश में आपदा प्रबंधन में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है। बाढ़, भूकंप और भूस्खलन जैसी प्राकृतिक आपदाओं के साथ-साथ दुर्घटनाओं और आतंकवादी हमलों जैसी मानव निर्मित आपदाओं सहित विभिन्न प्रकार की आपदाओं से निपटने के लिए रेलवे के पास एक व्यापक आपदा प्रबंधन योजना है।

भारतीय रेलवे के पास आपदाओं से निपटने के लिए संचार, कमान और नियंत्रण की एक सुस्थापित प्रणाली है। इस प्रणाली में एक नियंत्रण कक्ष, रेलवे पुलिस बल, आपदा प्रबंधन सेल और विभिन्न अन्य हितधारक शामिल हैं। रेलवे ने मेडिकल टीम, रेस्क्यू टीम और फायर फाइटिंग टीम सहित इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम का भी गठन किया है, जो किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए चौबीसों घंटे उपलब्ध हैं।

रेलवे ने बाढ़, भूस्खलन और चक्रवात जैसी प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए पूर्व चेतावनी प्रणाली भी विकसित की है। यह प्रणाली रेलवे अधिकारियों को अग्रिम चेतावनी प्रदान करती है, जिससे उन्हें आवश्यक सावधानी बरतने और जान-माल के नुकसान से बचने में मदद मिलती है। रेलवे ने आपदा प्रतिक्रिया का समन्वय करने और समय पर और प्रभावी राहत और पुनर्वास उपायों को सुनिश्चित करने के लिए एक राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) भी स्थापित किया है।

Also Read  स्पाइसजेट एयरवेज पर व्हीलचेयर कैसे बुक करें ( How To Book A Wheelchair On SpiceJet Airways )

भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कई उपाय भी किए हैं। रेलवे ने ट्रेनों की सुरक्षित और कुशल आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए आधुनिक सिग्नलिंग और ट्रेन नियंत्रण प्रणाली लागू की है। रेलवे ने सुरक्षा संबंधी मुद्दों की देखरेख और सुरक्षा मानकों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए एक सुरक्षा विभाग भी स्थापित किया है।

भारतीय रेलवे ने अतीत में विभिन्न आपदाओं के दौरान आपदा प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रेलवे ने 2001 में गुजरात भूकंप, 2013 में उत्तराखंड बाढ़ और 2018 में केरल बाढ़ के दौरान समय पर सहायता प्रदान की। रेलवे ने आपदाओं के दौरान लोगों को निकालने, प्रभावितों को भोजन और आश्रय प्रदान करने और राहत सामग्री और चिकित्सा आपूर्ति के परिवहन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

पर्यटन को बढ़ावा देने में भारतीय रेलवे की क्या भूमिका है? ( What is the role of Indian Railways in promoting tourism? )

भारतीय रेल देश में पर्यटन को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह एशिया का सबसे बड़ा और दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है, जो 67,000 किमी से अधिक की दूरी तय करता है और देश भर में 7,000 से अधिक स्टेशनों को जोड़ता है। रेलवे बजट के अनुकूल से लेकर लक्ज़री ट्रेनों तक, पर्यटकों के लिए यात्रा के कई विकल्प प्रदान करता है, जिससे यह घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों यात्रियों के लिए एक आकर्षक परिवहन साधन बन जाता है। यहाँ कुछ तरीके दिए गए हैं जिनसे भारतीय रेलवे पर्यटन को बढ़ावा देता है

Also Read  Vistara के साथ फ्लाइट कैसे बुक करें ( How To Book Flights With Vistara )
प्रमुख पर्यटन स्थलों को जोड़ना – भारतीय रेलवे देश भर के प्रमुख पर्यटन स्थलों को जोड़ती है, जिससे पर्यटकों के लिए भारत के विभिन्न हिस्सों का पता लगाना आसान हो जाता है। रेलवे आगरा, जयपुर, गोवा, केरल और अन्य लोकप्रिय पर्यटन स्थलों के लिए कई ट्रेनें चलाता है।
हेरिटेज और लक्ज़री ट्रेनें – भारतीय रेलवे पैलेस ऑन व्हील्स, डेक्कन ओडिसी, महाराजा एक्सप्रेस और अन्य जैसी कई विरासत और लक्ज़री ट्रेनों की पेशकश करती है, जो पर्यटकों को भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत की यात्रा पर ले जाती हैं। ये ट्रेनें विश्व स्तरीय सुविधाओं, स्वादिष्ट भोजन और मनोरंजन के साथ एक शानदार अनुभव प्रदान करती हैं।
स्थानीय संस्कृति को बढ़ावा भारतीय रेलवे पारंपरिक व्यंजनों की पेशकश और स्थानीय हस्तशिल्प और कला के रूपों को प्रदर्शित करके स्थानीय संस्कृति को बढ़ावा देता है। कई ट्रेनों में सांस्कृतिक प्रदर्शन होते हैं जो पर्यटकों को क्षेत्र की स्थानीय संस्कृति की झलक दिखाते हैं।
पर्यटन उद्योग के साथ साझेदारी – भारतीय रेलवे पर्यटन उद्योग के साथ साझेदारी करता है ताकि यात्रा और आवास को संयोजित करने वाले पैकेजों की पेशकश की जा सके। ये पैकेज पर्यटकों के लिए अपने यात्रा कार्यक्रम की योजना बनाना और एक ही बार में अपनी यात्रा और आवास बुक करना आसान बनाते हैं।
इकोटूरिज्म को बढ़ावा – भारतीय रेलवे पर्यटकों को सुंदर मार्गों, वन्यजीव अभ्यारण्य और प्राकृतिक परिदृश्य के माध्यम से ले जाने वाली ट्रेनों को चलाकर इकोटूरिज्म को बढ़ावा देता है। रेलवे सौर ऊर्जा से चलने वाली ट्रेनों और जैव-शौचालयों जैसे पर्यावरण के अनुकूल यात्रा विकल्प भी प्रदान करता है।

भारतीय रेलवे में लेट चलने वाली ट्रेन का स्टेटस कैसे चेक करें? ( How to check the status of late train in Indian Railways? )

भारतीय रेलवे में देरी से चलने वाली ट्रेन की स्थिति की जांच करने के लिए यात्री नेशनल ट्रेन इंक्वायरी सिस्टम (NTES) का उपयोग कर सकते हैं।

Also Read  What do I need to know about Travelling to Ukraine?

एनटीईएस तक पहुंचने के लिए यात्री आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं या मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। एक बार एनटीईएस एक्सेस हो जाने के बाद, यात्री ट्रेन की वर्तमान स्थिति की जांच करने के लिए ट्रेन नंबर या नाम और यात्रा की तारीख दर्ज कर सकते हैं।

यदि ट्रेन देरी से चल रही है, तो एनटीईएस अपने रूट के प्रत्येक स्टेशन पर ट्रेन के आगमन और प्रस्थान के अपेक्षित समय को प्रदर्शित करेगा। इसके अतिरिक्त, एनटीईएस ट्रेन के स्थान, इसकी अंतिम रिपोर्ट की गई स्थिति और अगले स्टेशन पर इसके आगमन के अपेक्षित समय पर रीयल-टाइम अपडेट प्रदान करता है।

यात्री रेलवे इंक्वायरी नंबर 139 पर कॉल करके भी ट्रेन की देरी के बारे में अपडेट प्राप्त कर सकते हैं। यह सेवा कई भाषाओं में उपलब्ध है, और यात्री इसका उपयोग ट्रेन की समय-सारणी, टिकट की उपलब्धता और अन्य प्रासंगिक विवरणों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए कर सकते हैं।

यात्री स्टेशन के पूछताछ काउंटर पर जाकर भी देरी से चलने वाली ट्रेन की स्थिति की जांच कर सकते हैं। रेलवे अधिकारी उन्हें ट्रेन की स्थिति, उसके आगमन के संभावित समय और देरी के प्रबंधन के लिए की गई किसी भी वैकल्पिक व्यवस्था के बारे में नवीनतम जानकारी प्रदान करेंगे।

भारतीय रेलवे में विदेशी पर्यटक के लिए ट्रेन टिकट कैसे बुक करें? ( How to book train ticket for foreign tourist in Indian Railways? )

विदेशी पर्यटक आईआरसीटीसी वेबसाइट या आईआरसीटीसी मोबाइल ऐप के माध्यम से भारतीय रेलवे में ट्रेन टिकट बुक कर सकते हैं। यह प्रक्रिया एक भारतीय यात्री के लिए टिकट बुक करने के समान है। 

  • IRCTC की वेबसाइट https://www.irctc.co.in/nget/train-search या ऐप पर अकाउंट बनाएं।
  • पासपोर्ट संख्या, राष्ट्रीयता और वीजा विवरण सहित आवश्यक विवरण प्रदान करें।
  • ट्रेन और यात्रा की श्रेणी का चयन करें।
  • नाम, आयु और लिंग सहित यात्री विवरण दर्ज करें।
  • क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड का उपयोग कर टिकट के लिए भुगतान करें।
  • टिकट बुक करने के बाद, यात्री को उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर एक पुष्टिकरण संदेश प्राप्त होगा।
  • विदेशी पर्यटक ट्रैवल एजेंट या टूरिज्म कंपनी के जरिए भी ट्रेन टिकट बुक करा सकते हैं। ये कंपनियां पैकेज की पेशकश करती हैं जिनमें ट्रेन टिकट, आवास और यात्रा संबंधी अन्य सेवाएं शामिल हैं।

विदेशी पर्यटकों को सलाह दी जाती है कि वे भारतीय रेलवे में यात्रा करते समय अपना पासपोर्ट और वीजा विवरण साथ रखें। इसके अतिरिक्त, उन्हें अपने पासपोर्ट और वीज़ा की एक फोटोकॉपी सुरक्षित स्थान पर रखनी होगी। यह भी सिफारिश की जाती है कि अंतिम समय की परेशानी से बचने के लिए विदेशी पर्यटक पहले से टिकट बुक कर लें।

Also Read : How to check train schedule and timings in Indian Railways?

error: Content is protected !!